पाकिस्तान के हुंजा जनजाति की महिलाएं 70 की उम्र में लगती है अप्सरा

क्या आप जानते हैं एक ऐसी जगह के बारे में जहां की औरतें 70 साल की उम्र में भी किसी अप्सरा से कम नहीं दिखती..? अगर नहीं तो चलिए आपको बताते है ऐसी जगह के बारे में जहां औरतें 70 साल की उम्र में भी एकदम जवान दिखती हैं.

भारत में अनेक प्रकार की जातियां पायी जाती हैं, उन्हीं जातियों में से एक है ‘हुंजा जनजाति’. एक रिपोर्ट के मुताबिक इस जनजाति की औरतें लंबे वक्त तक बेहद खूबसूरत और जवां दिखाई देती हैं.

65 से 70 साल की उम्र में भी बच्चे को देती है जन्म 

यह हुंजा जनजाति पाकिस्तानअधिकृत कश्मीर के भीतर एक स्वायत्तशासी क्षेत्र गिलगित इलाके में पाई जाती है. यहां की हुंजा घाटियां इन्हीं जनजातियों के रिहायश के लिए मशहूर है और इन्हीं घाटियों से इस जनजाति को यह पहचान मिली है. यह भारत के उत्तरी छोर पर स्थित है. इन जनजातियों की औरतों की सबसे प्रमुख बात यह है कि यह 65 से 70 साल की उम्र में भी बच्चे को जन्म दे सकती हैं.

खान-पान ही है इनकी सुंदरता का राज 

इस जनजाति के लोग कम बीमार पड़ते हैं. इनके शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता अधिक होती है. रिपोर्ट की माने तो हुंजा जनजाति 180 सालों तक जीवित रहती है. कहते हैं इनकी उम्र का राज इनके खाने-पीने में छुपा है.

इन लोगों का मुख्य भोजन ज्वार बाजरा और खुमानी व मेवा होता है. इनका सेवन ये अधिक से अधिक मात्रा में करते हैं. यही कारण है की यह लोग हमेशा स्वस्थ रहते हैं. यह लोग अपने अनाज को खुद ही उगाते हैं और उसे खाते हैं. आप जानकर दंग रह जाएंगे, यह लोग बर्फ के शून्य तापमान में भी ठंडे पानी से स्नान करते हैं. इनका खान पान और जीवन शैली इनकी खूबसूरती का राज है. हुंजा जनजाति के लोग सिकंदर को अपना वंशज मानते थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *