….तो इस राज्य में बिक रही थी बिल्ली बिरयानी

चिकन बिरयानी, कौवा बिरयानी, कुत्ता बिरयानी का नाम तो आपने सुना ही होगा. मगर बिल्ली बिरयानी के बारे में शायद पहली बार सुनेंगे. जी हां आजकल बाजार में बिल्ली बिरयानी का भी धड़ल्ले से बेचा जा रहा है. तमिलनाडु में एक बेहद ही चौकने वाला मामला सामने आया है. यहां के तिरुमुल्लैवयल में पुलिस ने कम से कम एक दर्जन बिल्लियों को हाल ही में पकड़ा है.

बताया जा रहा है कि इनके मीट से बिरयानी को बनाया जाना था. यहाँ की एक स्थानीय खानाबदोश जनजाति ने इन बिल्लियों को अपने यहां कैद करके रखा हुआ था और वो इनके मीट बेचने वाले थे. लेकिन पुलिस की एक खुफिया एजेंसी ने इस मामले में अपनी जांच कर सारा मामला सुलझा लिया..

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पीपल फॉर एनिमल्स के को-फाउंडर शिरानी पेरैरा ने कहा है कि पिछले कई सालों से खानाबदोश जनजाति बिल्लियों को पकड़कर उनके मीट को बेचती रही है. अनाज रखने के बड़े थैले में ये बिल्लियां खराब हालत में मिलीं. जबकि तीन बिल्लियां मृत मिली. पकड़ने वाले लोगों को पुलिस ने चेतावनी दी है.

जांच के लिए पुलिस की खुफिया टीम को लगाया गया था. एक हफ्ते तक जांच के बाद इनका पता चला. आसपास के कई शहरों के लोगों ने शिकायत की थी कि उनकी बिल्लियां गायब हो गई हैं. पुलिस ने इन जनजाति से बिल्ली के मीट का खरीददार बनकर संपर्क किया. लेकिन ये लोग आसानी से मीट देने को तैयार नहीं हुए क्योंकि अजनबियों से ये लोग से ये लोग बचते रहे थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *