अब भगवान के घर मिला 500 और 1000 की पुरानी नोट कीमत करोड़ों रुपये

भारत में 8 नवंबर 2016 को लिए गए नोटबंदी के फैसले के बाद देश में 500 और 1000 रुपए केे नोट पूरी तरह से बंद हो गए थे. इसके बाद लोगों ने अपने पास रखे 500 और 1000 रुपए के नोटों को बैंकों में जाकर बदलवा लि‍या था. लेकि‍न इस दौरान भारत के सबसे अमीर मंदि‍र ति‍रुपति‍ बालाजी के दानपात्र में लगभग 25 करोड़ की राशि पुराने नोटों में मि‍‍‍‍ली है. ऐसे में मंदिर प्रशासन की ओर से मदद के लिए आरबीआई को लेटर लिखा है.

मंदिर लिए सिर दर्द बने  1000 और 500 रुपए के पुराने नोट 

मीडिया खबरों के मुताबिक मंदिर के दर्शन के लिए आने वाले भक्तों ने नोट बदलने की सीमा खत्म होने के बाद भी हुंडी में 1000 और 500 रुपए के पुराने नोट डाले हैं. यही नोट अब मंदिर के लिए सिर दर्द बने हुए हैं. इसके चलते मंदि‍र ने आबीआई से मदद मांगी है. वहीं, यह भी कहा जा रहा है कि‍ जो लोग अपनी ब्‍लैक मनी को बैंक में जमा नहीं करा पाए. उन्‍होंने ही कानून के शि‍कंजे से बचने के लि‍ए पुराने नोट मंदि‍र के दानपात्र में डाले हैं.

इस विषय में मंदिर पहले भी आरबीआई को लेटर लिख कर नोटों को बदलने की अपील कर चुका है. इसके जवाब में RBI ने स्पष्ट तौर पर मंदिर को नोट बदलने के लिए मना कर दिया था. आरबीआई की दलील थी कि इससे तमाम लोग आरबीआई पर नोट बदलने के लिए दबाव बनाएंगे जिसे बैंक के सामने मुश्‍कि‍ल खड़ी हो जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *