…तो अब खत्म हो जाएगी फाइव होटलों से बाथटब की परंपरा

हालही में दुबई के जुमैरा एमिरेट्स टावर होटल में फिल्म अभिनेत्री श्रीदेवी का होटल के बाथटब में लाश मिली थी. घटना के बाद अब खबर आ रही है कि देश के सभी फाइव स्टार होटलों से जल्द ही बाथटब की सुविधा खत्म हो सकती है. दरअसल ये कोई सरकारी फरमान नहीं बल्कि ऐसा इस लिए किया जा रहा ताकि पानी की बचत की जा सके. इसके आलावा होटलों के बाथरूम को और बेहतर बनाया जा सके.

बाथटब से बर्बाद होता सैकड़ों लीटर पानी  

अधिकतर 5 स्टार होटल यह सुविधा अपने लग्जीरियश कैटेगरी को दिखाने के रूप में लोगों को देते हैं. भारत में यह बदलाव ग्लोबल ट्रेज को देखते हुए किया जा रहा है. वहीं बाथटब हटने से जल संरक्षण भी होगा. एक आंकडे के मुताबिक, बाथटब में एक व्यक्ति के नहाने में लगभग 370 लीटर पानी लगता है, जोकि शॉवर बॉथ (70 लीटर) के पांच गुने से भी ज्यादा है. होटल कारोबार से जुड़े लोगों के अनुसार बाथटब हटने से बाथरूम में काफी जगह बचेगी और साथ ही उसे आधुनिक भी बनाया जा सकेगा.

खबरों के अनुसार ताज, ओबेराय, आइटीसी से लेकर फाइव-स्टार होटल के सभी बड़े ग्रुप अपने होटलों में बाथटब की सुविधा की समीक्षा कर रहे हैं. वहीं शॉवर सुविधा का रुझान मोटे तौर पर बेंगलुरु के नोवेटेल, मुंबई के काज, विवांता आदि में देखा जा रहा है. हालांकि जयपुर के फेयरमोंट और केरला के ताज कुमारकम जैसे लग्जरी जगहों पर बाथटब की सुविधा मिलती रहेगी.

कई होटलों ने बंद कर दी है बाथटब की सुविधा 

भारत में सोफिटेल और इबिस जैसे ब्रांड संचालित करने वाले एक्कोर होटल के वाइस प्रेसीडेंट शिव कश्यप ने कहा कि बाथटब को बाहर करने का निर्णय कई चीजों को देखते हुए लिया जा रहा है. बाथटब होटल ब्रांड और मेहमानों की रुचि पर ही उपलब्ध होंगे. उन्होंने बताया कि मैरियट और हिल्टन जैसे होटलों ने बाथटब जैसी सुविधाएं बंद कर दी हैं. ओबेराय ग्रुप का कहना है कि उसके होटलों मे दस प्रतिशत से भी कम में बाथटप का उपयोग होता है.

एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के मुताबिक, ओबेराय ग्रुप की एक प्रवक्ता ने कहा-भविष्य में हम बाथटब की उपयोगिता का नए सिरे से मूल्यांकन कर रहे हैं. अब होटलों में बाथटब खत्म कर बाथरूम को नए सिरे से डिजाइन करने की तैयारी चल रही है. होटल में मसाज, रंगीन रोशनी आदि की व्यवस्था हो रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *