देश के 35 प्रतिशत मुख्यमंत्रियों पर दर्ज है अपराधिक मामले : ADR और NEW रिपोर्ट

भारत में कुल 29 राज्य है जिनमे सात केन्द्रशासित प्रदेश है. मुख्यमंत्रियों की एक रिपार्ट जारी की गयी है. जिसके मुताबिक देश के 81 प्रतिशत यानि 25 मुख्यमंत्री करोड़पति हैं. जिसमे सबसे अमीर मुख्यमंत्री आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू (177 करोड़) हैं.

सीरियस क्रिमिनल केस सबसे ज्यादा केजरीवाल के खिलाफ दर्ज हैं. जबकि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के ऊपर 22 क्रिमिनल केस दर्ज है. इसके आलावा रिपोर्ट में बहुत कुछ है तो चलिए हम आपको बताते है आपके प्रदेश के मुख्यमंत्री की कुछ खास बाते जिन्हें नहीं जानते होंगे आप…

सबसे अमीर मुख्यमंत्री 

रिपोर्ट में में बताया गया है कि देश के सभी प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों की औसत संपत्ति 16.18 करोड़ रुपए है. इनमें 81 प्रतिशत यानी 25 मुख्यमंत्री करोड़पति हैं. आंद्रप्रदेश की तेलुगु देशम पार्टी के मुखिया चंद्रबाबू नायडू सबसे अमीर हैं, जिनकी संपत्ति 177 करोड़ रुपए है. इनके अलावा टॉप थ्री में कांग्रेसी मुख्यमंत्री हैं.

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने अपनी संपत्ति सबसे कम बताई है. एफिडेविट के मुताबिक उनके पास 26 लाख की संपत्ति है. 100 करोड़ से ज्यादा संपत्ति वाले 2 सीएम हैं. 10 से 50 करोड़ के बीच 6, 1 से 10 करोड़ के बीच 17 और एक करोड़ के कम संपत्ति वाले 6 मुख्यमंत्री हैं.

एन चंद्रबाबू नायडू आंध्र प्रदेश 177.48 करोड़, पेमा खांडू अरुणाचल प्रदेश 129.57 करोड़, अमरिंदर सिंह पंजाब 48.31 करोड़, के चंद्रशेखर राव तेलंगाना 15.51 करोड़, मुकुल संगमा मेघालय 14.50 करोड़,

क्रिमिनल बैकग्राउंड वाले मुख्यमंत्री 

31 में से 11 यानी 35 प्रतिशत मुख्यमंत्रियों ने खुद को क्रिमिनल बैकग्राउंड वाला बताया है. 20 यानी 65 प्रतिशत ने एफिडेविट में खुद को साफ छवि वाला बताया.
8 मुख्यमंत्रियों यानी 26 प्रतिशत पर सीरियस क्रिमिनल केस हैं.

चंद्रबाबू नायडू, केरल के सीएम पिनाराई विजयन और जम्मू-कश्मीर की महबूबा मुफ्ती पर कोई क्रिमिनल केस नहीं है. महाराष्ट्र के देवेंद्र फडणवीस के खिलाफ 22 क्रिमिनल केस हैं, इनमें से 3 सीरियस हैं. केजरीवाल पर सबसे ज्यादा 4 सीरियस क्रिमिनल केस दर्ज हैं.

मुख्यमंत्री राज्य क्रिमिनल केस सीरियस क्रिमिनल केस

महाराष्ट्र  के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के ऊपर 22 क्रिमिनल केस 3 सीरियस क्रिमिनल केस,  केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के नाम  11 क्रिमिनल केस  एक सीरियस क्रिमिनल केस, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल  के नाम पर  10 क्रिमिनल केस 4 सीरियस क्रिमिनल केस, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास के नाम  8 क्रिमिनल केस 1 सीरियस क्रिमिनल केस, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह  नाम  4 क्रिमिनल केस  3 सीरियस क्रिमिनल केस दर्ज है.

पढ़े-लिखे और युवा एवं वृद्ध मुख्यमंत्री

31 में से केवल 3 यानी 10 प्रतिशत मुख्यमंत्री महिलाएं हैं. देश के सभी सीएम शिक्षित हैं. इनमें केवल एक को डॉक्टरेट की डिग्री मिली है. ग्रेजुएट मुख्यमंत्रियों की तादाद सबसे ज्यादा 12 यानी 39 प्रतिशत है.

नौजवान सीएम की बात करें तो ये सभी बीजेपी के हैं. अरुणाचल के पेमा खांडू (35) इस लिस्ट में टॉप पर हैं. सबसे उम्रदराज सीएम पंजाब के अमरिंदर सिंह (74) हैं. महाराष्ट्र  के देवेंद्र फडणवीस 44 वर्ष, उत्तर प्रदेश के योगी आदित्यनाथ  45 वर्ष, केरल के  पिनाराई विजयन  72 वर्ष और मिजोरम के लल थनहवला  71 वर्षों के है.

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) और नेशनल इलेक्शन वॉच (NEW) ने 31 मुख्यमंत्रियों का एनालिसिस जारी किया गया है. इसमें 28 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों को शामिल किया गया है. एनालिसिस चुनाव लड़ने से पहले मुख्यमंत्रियों की ओर से दायर एफिडेविट पर आधारित है. इसके मुताबिक, देश के 81 प्रतिशत यानि 25 मुख्यमंत्री करोड़पति हैं. इनमें सबसे ज्यादा अमीर आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू (177 करोड़) हैं। सीरियस क्रिमिनल केस सबसे ज्यादा केजरीवाल के खिलाफ दर्ज हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *