सफलता के लिए अच्छे व्यवहार जरुरी

ज़िन्दगी में अच्छी आदते न डाली जाये तो हम उस शिखर पर कभी नहीं पहुँच सकते. जिसका सपना हमने अपने लिए संजोया होता है. इसके लिए जो सबसे बड़ी जरूरत होती है, वो होती है! अच्छी आदतों को अपनाना साथ ही उन आदतों को छोड़ना जो की हमारी सफलता में बाधा बन सकती है. ऐसी ही कुछ आदतों पर आज हम बात करते है. जिसके बारे में हमने सोचा भी नही होता है. जिनको अगर समय रहता न बदला जाये तो हमारे लिए कितनी हानिकारक बन सकती है.

१ . कल करे सो आज

कल करे सो आज ,आज करे सो अब! कबीर का ये दोहा बचपन से ही सभी को पढाया जाता है. जो की हमें ये सिखाता है , हमे अपने सभी काम को समय पर करना चाहिये. क्योंकि अगर समय का सदुपयोग होगा तो हम को ही फायदा पहुँचेगा. हम अपने काम को समय पर ख़त्म कर सकेंगे. साथ इस तरह से हमारे दूसरे काम भी समय पर हो पायेंगे. वरना अगर हम एक के बाद एक काम कल पर छोड़ते जायेंगे , खुद के लिए ही समस्या पैदा करेंगे. एक तो कई कामों को एक साथ ख़त्म करने का प्रेशर होगा. साथ ही हम अपने काम को पूरी लगन के साथ नही कर पायेंगे.

२ . निर्णय लेने की क्षमता

सफलता की पहली सीढ़ी , सही निर्णय के साथ शुरू होती है. कोई भी व्यक्ति बचपन से सही निर्णय का गुण सिख कर नही आता है. बल्कि हर व्यक्ति अपनी गलतिओं से ही , बेहतर निर्णायक बनता है. इसलिए अगर आपको लगता है. आप सही निर्णय नही ले पाते है तो आप अपने निर्णय खुद से लेना शुरू कीजिये. इससे आपका का आत्मविशवास बढेगा , साथ ही आपकी निर्णय लेने की क्षमता भी बेहतर होती जाएगी.

३ . मन में गांठ रखना

मन में कभी भी किसी के लिए किसी भी तरह की गांठ नही रखनी चाहिए. इस तरह से हमारा ध्यान भटकता है और हम अपना काम उतने मन से नहीं कर पायेंगे जितनी की हमारी क्षमता होगी, हम हमेशा ही बिना मतलब के ख्याल में उलझे रहेंगे और अपने काम को सत प्रतिशत नही दे पाएंगे. साथ ही कभी अगर भविष्य में कभी उस व्यक्ति के साथ काम करना पड़ा जिसके लिए आपके मन में गांठ है तब बहुत ही ज्यादा दबाव महसूस करेंगे और अच्छी टीम मेम्बर के तौर पर सामने नहीं आ पाएंगे.

 

४  . खुद को समय दे

कई बार ऐसा देखा जाता है. सफलता की दौड़ में सबसे आगे निकलने के लिए हम अक्सर ही खुद को समय देना भूल जाते है. हमको लगने लगता है , खुद के लिए समय तो कभी भी भी निकाला जा सकता है लेकिन काम के साथ साथ , खुद को भी समय देना बहुत जरुरी होता है।  जब हम समय समय पर ब्रेक लेते है. हम इस ब्रेक में खुद को फ्रेश और एनर्जेटिक महसूस करते है. जो की हर सफल इन्सान के लिए बेहद जरुरी है. २४ घंटे ७ दिन काम काम करना भी अच्छी आदत की निशानी नही है. खुद को समय दे. समय समय पर खुद को समझे. यह आपके लिए बेहद लाभकारी होगा.

५  .सेहत का ख्याल रखें –

काम के साथ सेहत का ख्याल भी जरुर रखना चाहिए. पहला सुख निरोगी काया  अगर स्वाथ्य अच्छा होगा तो मन भी अच्छा होगा. मन अच्छा होगा स्फूर्ति होगी. वरना अगर अपने स्वाथ्य का ख़याल नही रखेंगे तो आप काम में मन नही लगा पाएंगे. साथ ही आपकी शारीरिक पीड़ा आपको लगातार आपके काम से अवकाश लेने के लिए मजबूर करती रहेगी. इस तरह से आपको दोहरा नुकसान होगा.

 

६. सोशल मीडिया

आज के समय की सबसे बड़ी समस्या अगर आपका काम इसके बिना नही हो सकता है. तब तो इसका एक समय सीमा के बाद इसका उपयोग ठीक है, लेकिन अगर बिना वजह ही अपना बहुमूल्य समय इसपर गवां रहे है. यह बिलकुल भी अच्छा निर्णय नही है. इससे न सिर्फ आपका काम प्रभावित होता है. बल्कि समय भी बर्बाद होता है. जिसका इस्तेमाल आप किसी और उपयोगी जगह पर कर सकते है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *