एक ऐसी झील जो जीवों को बना देती है पत्थर !

रामायण काल में क्रोधित गौतम ऋषि द्वारा खुद अपनी पत्नी अहिल्या को श्राप देकर पत्थर का बना दिए जाने कि घटना से तो दुनिया वाकिफ है. जो भगवान श्रीराम के चरणों के स्पर्श से तर गयी. लेकिन दुनिया में एक ऐसी झील है जिसके संपर्क में आते ही जीव-जंतु पत्थर के हो जाते है और इनको तारने वाला कोई नहीं है. जी हाँ आज हम आपको एक ऐसी ही झील के बारे में बता रहे है यह है यह है उत्तरी तंजानिया स्थित है. जिसके पानी को जो भी छुता है वो पत्थर बन जाता है.

lake kuchhnaya

अफ़्रीकी देश उत्तरी तंजानिया में नेट्रान लेक झील है. बताया जाता है कि इस झील के संपर्क में आने से सभी जीव जंतु पत्थर के बन जाते है. दरअसल झील के पानी में जाने वाले जानवर और पशु-पक्षी कुछ ही देर में कैल्सिफाइड होकर पत्थर बन जाते हैं. पूर्वी अफ्रिका में गायब हो रहे जानवरों लिखी गयी किताब Across the Ravaged Land में बताया गया है कि झील में अत्यधिक रिफ्लेक्टिव नेचर ने उन्हें दिग्भ्रमित किया फलस्वरूप वे पत्थर के बन गए.

kuchhnaya

किताब में आगे लिखा गया. पानी में नमक और सोडा की मात्रा बहुत ही जयादा है, पानी में सोडा और नमक की ज्यादा मात्रा इन पक्षियों के मृत शरीर को सुरक्षित रखती है.

पानी में अल्कलाइन का स्तर पीएच9 से पीएच 10.5 है, यानी अमोनिया जितना अल्कलाइन. लेक का तापमान भी 60 डिग्री तक पहुंच जाता है. पानी में वह तत्व भी पाया गया जो ज्वालामुखी की राख में होता है. इस तत्व का प्रयोग मिस्रवासी ममियों को सुरक्षित करने के लिए रखते थे.

alkalinelake kuchhnaya
वो अपनी किताब में आगे लिखते है  सारे प्राणी calcification के कारण चट्टान की तरह मजबूत हो चुके थे इसलिए बेहतर फोटो लेने के लिए हम उनमे किसी भी तरह का बदलाव नहीं कर सकते थे इसलिए फोटो लेने के लिए हमने उन्हें वैसी ही अवस्था में पेड़ो और चट्टानों पर रख दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *