एक ऐसी बीमारी जिसकी चपेट में आने से लड़की बन जाती है लड़का

आज हम आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताएंगे, जहां कुछ बच्चे पैदा होते वक़्त लड़कियां होती हैं लेकिन कुछ सालों बाद रातोंरात एकदम से लड़का बन जाती है. सुनने में अजीब लगने वाली यह बात बिलकुल सच है. डोमिनिकन रिपब्लिक के एक छोटे से गांव ला सेलिनास में 12 साल के बाद लड़कियां अपने आप लड़का बना जाती हैं. इस गांव में 50 में से 1 बच्चा इस बीमारी से ग्रस्त है.

लाइलाज रहस्‍यमयी बीमारी

डोमिनिकन रिपब्लिक में एक छोट सा गांव है ला सेलिनास यहां काफी तादात में पैदा होने वाले बच्‍चों को एक रहस्‍यमयी बीमारी ने जकड़ रखा है. इस अजीबो गरीब बीमारी के असर से लड़की के तौर पर पैदा हुई बच्‍ची किशोरी होते-होते अपने आप लड़का बन जाती हैं. कैरेबियाई देश के सेलिनास गांव में 12 साल की उम्र में लड़कियों के लड़का बनने की इस लाइलाज बीमारी से लोग बेहद हैरान परेशान हैं.

एक आनुवंशिक विकार

चिकित्‍सकों के अनुसार ये बीमारी एक आनुवंशिक विकार है और स्‍थानीय भाषा में इससे ग्रस्‍त बच्‍चों को ‘सूडोहर्माफ्रडाइट’ कहते हैं. इस बीमारी में लड़की के तौर पर पैदा हुए कुछ बच्चों के शरीर में धीरे-धीरे पुरूषों के अंग बनने लगने और उनकी आवाज भी भारी होने लगती है. उनके शरीर में वो बदलाव आने शुरू हो जाते हैं जो उन्हें धीरे-धीरे लड़की से लड़का बना देते हैं. फ़िलहाल इस बीमारी का कोई इलाज नहीं हैं लेकिन एक अमरीकी कंपनी मर्क इस पर रिसर्च कर रही है.

बीमारी का शिकार हुए बच्चों को किन्नर कहते है लोग 

इस बीमारी से ग्रस्‍त बच्चों को सामान्‍य लोग काफी नीची नजर से देखते हैं. उन्हें समाज में नफरत के काबिल समझा जाता है. इन बच्‍चों को ‘ग्वेदोचे’ के नाम से बुलाया जाता है, जिसका अर्थ किन्नरों के लिए इस्‍तेमाल होने वाले शब्‍द के लिए होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *