विश्व का एक बड़ा परिवार जिसके मुखिया के पास है 39 पत्नियां सैकड़ों बच्चें

रावण पर आधारित एक कहावत तो आपने जरूर सूना होगा “एक लाख पूत सवा लाख नाती ता घर में दिया न बाती” यानि कहने का मतलब हुआ की उस समय रावण के पास एक लाख पुत्र और सवा लाख नाती थे। मगर आज हम यहां रावण की बात नहीं बल्कि एक ऐसे व्यक्ति करने जा रहे जिसके पास कुल 181 सदस्यों का कुनबा रहता है। जिन्हे दुनिया का सबसे बड़ा परिवार माना जाता है जो भारत में रहता है। तो चलिए बताते है इस बड़े से परिवार की कुछ खास बातें

Getty Images

सौ कमरों के एक माकन रहता है पूरा परिवार

मिजोरम की राजधानी आइजोल के पास बख्तवांग गांव में एक परिवार रहता है। जिसमे 39 पत्नियां, 94 बच्चे,14 बहुओं और 33 पोते-पोतियों और एक नन्हा प्रपौत्र के साथ वे बड़े प्यार से रहते हैं। इस परिवार के मुखिया है जियोना चाना (Ziona Chana) जिनकी उम्र लगभग 60 वर्ष के करीब है। जियोना का परिवार मिजोरम में खूबसूरत पहाडि़यों के बीच बटवंग गांव में एक चार मंजिला से मकान में रहता है. मकान में कुल सौ कमरे हैं।

Getty Images

एक गांव की तरह है एक परिवार

जियोना की कुल 39 पत्नियां है। दरअसलव् जिओना ऐसे संप्रदाय से ताल्लुक रखते हैं जो अपने सदस्यों को असीमित शादी की अनुमति देता है।

इनकी इतनी सारी पत्नियों की यही वजह है। जियोना अपने बेटों के साथ बढ़ई का काम करते है। परिवार की महिलाएं खेती करती हैं और घर चलाने में योगदान देती हैं। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज इस परिवार के सदस्य अपने आप में पूरा गांव हैं।

Getty Images

रोज कैसे और कितना बनता है खाना

इस परिवार के सदस्यों के खाने पीने बात की जाय तो प्रतिदिन 130 किलो अनाज पकाया जाता है। जिसमें 100 किलो चावल, 25 किलो दाल, 20 किलो फल, 30 से 40 मुर्गे, 60 किलो आलू और 50 अंडों की जरूरत पड़ती है।

जिसे घर की ही महिलाएं मिलजुलकर पकाती है। जियोन की फैमिली एक 4 मंजिला मकान में रहती है, जिसमें 100 से ज्यादा कमरे हैं। जिसमें एक बड़े डायनिंग हाल में 50 टेबलों पर खाना परोसा जाता है। जियोन की पत्नियां खाना बनाती हैं। जबकि बेटियां घर के दूसरे काम देखती हैं, और साफ-सफाई की जिम्मेदारी बहुएं संभालती हैं। कपड़े धोने का काम परिवार के सभी मेंबर मिलकर करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *